Celebration of Ballerina-2018.

प्रिंस एजुकेशन हब की संगठक संस्था पीसीपी, प्रिंस स्कूल, प्रिंस एकेडमी, प्रिंस स्कूल पिपराली रोड, प्रिंस गल्र्स कॉलेज एवं प्रिंस एनडीए एकेडमी का वार्षिकोत्सव एवं प्रतिभा सम्मान समारोह बेलेरीना-2018 का आयोजन प्रिंस एकेडमी में हुआ। प्रात: 9 से सांय 5 बजे तक चले इस भव्य कार्यक्रम में लगभग ६५० विद्यार्थियों ने एक से बढ़कर एक 33 साँस्कृतिक प्रस्तुतियाँ दी। कार्यक्रम में आईआईटी-जेईई, नीट, एम्स में चयनित प्रतिभाओं, सीबीएसई एवं राजस्थान बोर्ड कक्षा 12वीं एवं 10वीं ऑल इण्डिया व स्टेट रैंक प्राप्त विद्यार्थियों, बोर्ड परीक्षाओं में 90 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त विद्यार्थियों एवं राष्ट्रीय व राज्य स्तर पर चयनित खिलाडिय़ों सहित 523 प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया। सीबीएसई ऑल इण्डिया रैंक प्राप्त अनिल पुनियाँ, तनिषा बेनीवाल,अशोक माली एवं तनिषा सिहाग को मोटरसाइकिल-स्कूटी, आईआईटी-जेईई में उच्च रैंक प्राप्त सुशील बिश्नोई एवं सोमू प्रजापति को मोटरसाइकिल, एम्स में उत्कृष्ट रैंक प्राप्त प्रशांत स्वामी एवं रींकूश को लेपटॉप देकर सम्मानित किया गया। आईआईटी-जेईई एवं पीएमटी में चयनित अन्य प्रतिभाओं को 5100 रुपये का नगद पुरस्कार, लेपटॉप बैग एवं स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में जिला कलेक्टर नरेश ठकराल, यूआईटी चेयरमैन हरिराम रणवाँ, पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुभाष महरिया, फतेहपुर विधायक हाकम अली, सादुलपुर विधायिका कृष्णा पूनियाँ, लाडनूँ विधायक मुकेश भाकर, युवा नेता सुभाष मील, पूर्व विधायिका द्रोपदी मेघवाल, डीएसपी राकेश ढाका, रामनिवास ढाका, संजीव कुल्हरी, शिवराम बत्तौर अतिथि शामिल हुए। साँस्कृतिक कार्यक्रमों में सैया थीम, मल्हार, पगड़ी, हम्मा इंस्ट्रूमेंटल, फाइट मशअप, नैनो वाले नैन, कैदारनाथ, मणिकृणिका, गरबा, भंागड़ा, स्टंट, बेटी बचाओ, म्यूजिक बैण्ड, सन ऑफ लोर्ड आदि प्रस्तुतियों ने दर्शकों को मंत्र मुग्ध कर दिया। जिला कलेक्टर नरेश ठकराल ने मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा जारी शिक्षण संस्थान स्वच्छता रैंकिंग में ऑल इण्डिया लेवल पर द्वितीय स्थान हासिल करने पर प्रिंस एकेडमी को सर्टिफिकेट एवं स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर जिला कलेक्टर नरेश ठकराल ने कहा कि जब सफल विद्यार्थियों के साथ अभिभावक मंच पर सम्मानित होते हैं तो उनके चेहरे की खुशी देखते ही बनती है। एक विद्यार्थी को लक्ष्य बनाकर दृढ निश्चय के साथ प्रयास करने से सफलता अवश्य मिलती है। अन्तर्राष्ट्रीय खिलाड़ी एवं सादुलपुर विधायिका कृष्णा पूनियाँ ने कहा कि शिक्षा के साथ-साथ खेल-कूद में भी सक्रिय होना चाहिए। खेल-कूद से दिमाग की एकाग्रता भी बढ़ती है। उन्होंने कहा कि महिलाओं एवं बेटियों के उत्थान के लिए आवश्यक है कि हम अपने घर से ही इस उत्थारन की शुरुआत करें। लाडनूँ विधायक मुकेश भाकर एवं युवा नेता सुभाष मील ने भी विद्यार्थियों को असफलता से घबराने की बजाय उसे सफलता में बदलने की सीख दी। चेयरमैन डॉ. पीयूष सुण्डा ने संस्था का वार्षिक प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। निदेशक जोगेन्द्र सुण्डा ने आगुन्तकों का आभार व्यक्त किया। मंच संचालन महेन्द्र रणवाँ एवं राघवेन्द्र सिंह राजावत ने किया।